750+ Attitude Shayari In Hindi 2019 (एटीट्यूड शायरी)

जहाँ कदर न हो अपनी वहाँ जाना फ़िज़ूल है,
चाहे किसी का घर हो चाहे किसी का दिल।


मेरे लफ्जों से न कर मेरे किरदार का फ़ैसला,
तेरा वजूद मिट जायेगा मेरी हकीकत ढूंढ़ते ढूंढ़ते।


लाख कोशिशें करते हैं लोग,
पर सबको हासिल तख्तो ताज नही होता है,
शोहरत तो कमाना आसान है,
पर सबका हमारे जैसा इस्टाइल नही होता है।


शायरी का बादशाह हुं और कलम मेरी रानी,
अल्फाज़ मेरे गुलाम है, बाकी रब की महेरबानी ।


मेरी ख़ामोशी को कमजोरी ना समझ ऐ काफिर,
गुमनाम समन्दर ही खौफ लाता है!!


हक़ से दो तो तुम्हारी नफरत भी कबूल हमें,
खैरात में तो हम तुम्हारी मोहब्बत भी न लें।

15 Comments

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *