750+ Attitude Shayari In Hindi 2019 (एटीट्यूड शायरी)

खेल ताश का हो या जिंदगी का,
अपना इक्का तब ही दिखाना जब सामने बादशाह हो ।


शांखो से गिर कर टूट जाऊ मै वो पत्ता नही,
आंधियो से कह दो कि अपनी औकात मे रहें।


दुश्मनो को सजा देने की एक तहजीब है मेरी,
मै हाथ नहीं उठाता बस नजरों से गिरा देता हूँ।


की मोहब्बत तो सियासत का चलन छोड़ दिया,
हम अगर प्यार न करते तो हुकूमत करते।


दिल में मोहब्बत का होना जरूरी है,
वर्ना याद तो रोज दुश्मन भी किया करते है .


ज़र्रों मे रहगुजर के चमक छोड़ जाऊँगा,
पहचान अपनी दूर तलक छोड़ जाऊँगा,
खामोशियों की मौत गंवारा नहीं मुझे,
शीशा हूँ टूटकर भी खनक छोड़ जाऊँगा।


माँ ने कहा था कभी किसीका दिल मत तोडना,
इसलिए हमने दिल को छोड के बाक़ी सब तोड़ा |


अंजाम की परवाह होती तो,
हम मोहब्बत करना छोड़ देते,
मोहब्बत में तो जिद होती है,
और जिद के बड़े पक्के हैं हम।

Written by Amit

I am Amit, the founder of ShayariShop.in which deals with Film dialogues, Hindi shayaris, WhatsApp Status, FB profile updates and other things. I've been in this industry from last 3 years while doing my degree in computer science.

15 Comments

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *